डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन: उपयोग, प्रभाव, और साइड इफेक्ट्स का सम्पूर्ण ज्ञान

डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन का उपयोग
Spread the love

आपने क्या अभी शुगर कंट्रोल करने की दवा ली?

आप जिस प्रकार अपना भोजन समय पर लेते हैं और रोजमर्रा के काम-काज बिना किसी रुकावट के करते हैं, ठीक उसी प्रकार अगर आप डायबिटीज से ग्रसित हैं तो शायद आप मेटफार्मिन की रोजाना खुराक लेते होंगे।

पर जरा रुकिए, आपने क्या कभी सोचा है कि ये गोलियाँ आपके ब्लड शुगर को नियंत्रित करने में कैसे मदद करती हैं?

आपके ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखने में ये गोलियाँ आपकी मदद करत हैं। सबसे पहले आइए जानें कि आपको डायबिटीज नियंत्रित करने के लिए दवाइयों की जरूरत क्यों है?

Hindi Diabetes CTA

डायबिटीज नियंत्रित करने के लिए शुगर की दवा की जरूरत क्यों है?

सवाल के जवाब से पहले आइए जाने कि आपको जब डायबिटीज होता है तब सचमुच क्या होता है?

डायबिटीज एक ऐसी स्थिति है जहाँ आपका शरीर ब्लड शुगर लेवल को ठीक से नियंत्रित करने के लिए बहुत झगड़ता है।

टाइप 2 डायबिटीज में हमारा शरीर इंसुलिन (ब्लड शुगर को नियंत्रित करने वाला एक हार्मोन ) के सही इस्तेमाल करने के लिए बहुत काम करता है, अक्सर इंसुलिन के इस्तेमाल में सुधर करने या हमारे लीवर द्वारा बनी शुगर को कम करने के लिए दवा कि जरूरत होती है।

शुगर कंट्रोल करने की दवा बहुत महत्वपूर्ण हो जाती है क्योंकि दवा ब्लड शुगर लेवल को सही रखने में मदद करती है।

दवाइयाँ अलग-अलग तरीकों से मदद करती हैं, जैसे

  • इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करना
  • इंसुलिन की उपज बढ़ाना
  • लीवर की शुगर की उपज कम करना
  • ब्लड शुगर स्थिर बनाए रखना
  • डायबिटीज की मुश्किलों को रोकना

डायबिटीज और मेटफार्मिन हमेशा एक साथ चलते हैं क्योंकि डायबिटीज से ग्रसित लोगों में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए आमतौर पर मेटफोर्मिन निश्चित किया जाता है।

मेटफॉर्मिन आया कैसे?

टाइप डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन सबसे महत्वपूर्ण है और इसका अतीत काफी दिलचस्प है।

  • मेटफॉर्मिन गोट्स रु नामक पौधे से मिलता है जिसका इस्तेमाल प्राचीन यूरोपीय चिकित्सा में किया जाता था, जिसे सन 1918 में ब्लड शुगर को कम करने के लिए खोजा गया था।
  • अन्य समान दवाओं की तरह मेटफॉर्मिन ठोस दवा न होने के कारण शुरू-शुरू में तो डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन दवा को नजरअंदाज किया गया था और बाद में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए बंद कर दिया।
  • सन 1940 के दशक में मलेरिया रोधक खोज के दौरान मेटफॉर्मिन को फिर से खोजा गया तब इसके ब्लड शुगर को कम करने के राज के बारे में पता चला। सन 1957 तक मेटफॉर्मिन का इस्तेमाल डायबिटीज के लिए किया जाने लगा।
  • सबसे पहले यूरोप ने वजन बढ़ने या बहुत कम ब्लड शुगर तैयार किए बिना अपनी सुरक्षा और प्रभाव के लिए मेटफॉर्मिन की तरफदारी की।
  • अमेरिका ने सन में इसका इस्तेमाल शुरू किया और सन तक अध्ययन से साबित हुआ कि मेटफॉर्मिन ह्रदय की समस्याओं को रोकने में भी मदद करता है जिससे डायबिटीज की दवा बनाई गई है।

आज मेटफॉर्मिन पूरी दुनिया में सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली डायबिटीज की दवा है, जिसमें अधिक स्वास्थ्य लाभ की गुंजाइश है।

आपका डायबिटीज रिवर्स
हो सकता है क्या?

मेटफॉर्मिन है क्या?

मेटफॉर्मिन एक प्रिस्क्रिप्शन दवा है जिसका इस्तेमाल मुख्य रूप से टाइप डायबिटीजके इलाज के लिए किया जाता है।

यह लीवर में ग्लूकोज बनाना कम करके इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करके मांसपेशियों द्वारा ग्लूकोज लेने को सरल बनाकर काम करता है।

ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में इसकी प्रभावशीलता के कारण डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन 500 दवा आमतौर पर डॉक्टरों द्वारा निश्चित की जाती है।

Metformin Uses in Hindi

मेटफॉर्मिन का उपयोग कैसे?
प्राथमिक उपयोग: डायबिटीज के लिए ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करना मेटफॉर्मिन इंसुलिन पर शरीर की प्रतिक्रिया में सुधर करके ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है जिससे टाइप डायबिटीज के नियंत्रण के लिए यह सबसे मुनासिब दवा बन जाती है।
प्री-डायबिटीज प्री-डायबिटीज वाले लोगों के लिए, जहाँ हाई ब्लड शुगर लेवल होता है पर डायबिटीज के तहत नहीं है, मेटफॉर्मिन टाइप 2 डायबिटीज को होने में देरी या रोकथाम में मदद करता है।
पीसीओ (PCO) मेटफॉर्मिन माहवारी को नियमित करने में मदद करता है और इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करता है,जो PCOS के लक्षणों को नियंत्रित करने में फायदेमंद हो सकता है।
वजन नियंत्रण  मेटफॉर्मिन जबकि वजन कम करनेवाली दवा नहीं है पर यह इंसुलिन सेंसिटिविटी में सुधार करके और शायद वजन कम कर टाइप 2 डायबिटीज वाले लोगों के लिए वजन नियंत्रित करने में मदद कर सकती है।

प्रेग्नेंसी में मेटफोर्मिन

आपने प्रेग्नेंसी के दौरान कुछ महिलाओं को मेटफॉर्मिन लेते हुए देखा होगा। पर क्या इस दौरान मेटफॉर्मिन लेना महफूज है?

आइए इसका जवाब देखें

जेस्टेशनल डायबिटीज: जिन महिलाओं को प्रेग्नेंसी के दौरान डायबिटीज हो जाता है उनके लिए ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने के लिए मेटफॉर्मिन इंसुलिन का एक पर्याय हो सकता है। प्रेग्नेंसी और डिलीवरी के दौरान उलझनों के खतरे को कम करने के लिए ब्लड शुगर को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करना बहुत जरूरी होता है।

PCOS: PCOS से ग्रसित महिलाएँ जो प्रेग्नेंट हो जाती हैं वे लक्षणों को नियंत्रित करने और अबॉर्शन के संभाव्य खतरे को कम करने के लिए मेटफोर्मिन जारी रख सकती हैं, जो PCOS प्रेग्नेंसी में ज्यादा रहता है।

हिफाजत और निगरानी: आमतौर पर मेटफोर्मिन को प्रेग्नेंसी के दौरान महफूज माना जाता है पर प्रेग्नेंट महिलाओं को अपने डॉक्टर से इस बारे में गहन चर्चा करनी चाहिए। प्रेग्नेंसी के दौरान स्वास्थ्य को समझ कर माँ और बच्चा दोनों पर मेटफॉर्मिन के असर को समझने के लिए नियमित जाँच कराना बेहद महत्वपूर्ण है।

डायबिटीज के लिए मेटफॉर्मिन के साइड इफेक्ट

आमतौर पर मेटफोर्मिन को डायबिटीज से ग्रसित लोगों के लिए एक महफूज दवा माना जाता है, पर कुछ ही लोग मेटफॉर्मिन के साइड इफेक्ट अनुभव कर सकते हैं:

  • नार्मल गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएँ जैसे दस्त,मतली और उल्टी
  • लैक्टिक एसिडोसिस ख़ास कर किडनी की समस्या वाले लोगों में।
  • काफी लंबे समय से विटामिन B12 की कमी।

आप अगर मेटफोर्मिन ले रहें हैं तो कुछ सावधानी बरतें

  • आपको अगर पहले से कोई समस्या है (जैसे कि किडनी या लीवर कि समस्या, ह्रदय रोग), तो अपने डॉक्टर से विचार-विमर्श करें।
  • इसके साथ, आपको शराब पीना कम करना चाहिए।
  • आप अगर अन्य दवाइयाँ ले रहें हैं तो मेटफोर्मिन के साथ मुमकिन इंटरैक्शन को जान लें।

डायबिटीज नियंत्रण के लिए मेटफोर्मिन आपका सच्चा साथी हो सकता है, जो ब्लड शुगर नियंत्रण से भी अधिक फायदे दिला सकता है। पर मेटफोर्मिन लेने से पहले आपको अपने डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी है।

बेहतरीन नियंत्रण और ठोस स्वास्थ्य नतीजे पाने के लिए आप पर जरूरत के अनुसार इलाज करना जरूरी है।

Fitterfly में हम जानते हैं कि डायबिटीज को प्रभावी ढंग से नियंत्रित करने के लिए एक बड़े नजरिए कि जरूरत है जिसमें जीवनशैली में सुधार, समय पर दवा लेना और अपने डॉक्टर की सलाह पर चलना शामिल है।

विशेषज्ञों की हमारी टीम आपको डायबिटीज नियंत्रण के लिए बेहतरीन हल पेश करने के लिए सदैव तैयार है, जिसमें हमारे नव-नवीन कार्यक्रमों के साथ मेटफोर्मिन जैसी विश्वसनीय दवाइयाँ भी शामिल हैं।

आप अगर अपने डायबिटीज पर काबू पाना चाहते हैं, तो हमारे डायबिटीज प्राइम प्रोग्राम के बारे में अधिक जानने के लिए पर हमसे संपर्क करें 08069450746 और जानें कि बेहतरीन स्वास्थ्य की ओर बढ़ने वाले आपके सफर में वे आपकी कैसे मदद कर सकते हैं।

3 महीने में Diabetes REVERSE किया

Dharmender Tiwari
8.2% 5.7%
धर्मेंद्र तिवारी
उम्र 58
Happy members
25000+
Happy members
No Cost EMI
No Cost
EMI
Moneyback Guarantee
Moneyback
Guarantee
Rated 4.8/5
Rated 4.8/5
4.8/5
आप भी करें Join
Fitterfly's
Diabetes Prime Program
Required
Required
* Diabetes Remission is the clinical term for Diabtes Reversal

FAQ - Frequently Asked Questions

डायबिटीज की दवा मेटफोर्मिन लेने का सबसे बेहतरीन समय कौन-सा है?

आमतौर पर पेट की गड़बड़ी को कम करने के लिए खाने के साथ ले सकते हैं। दवा का एक्सटेंडेड-रिलीज वर्जन रोजाना एक बार शाम के खाने साथ ले सकते हैं। पर दवा कब लेनी है इसके बारे में सलाह दी जाती है कि अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर द्वारा दी गई सूचनाओं का पालन करें।

मेटफोर्मिन डायबिटीज में कैसे मदद करता है?

मेटफोर्मिन से लीवर ग्लूकोज बनाना कम करता है जिससे इंसुलिन सेंसिटिविटी बढाती है और मांसपेशियों द्वारा ग्लूकोज अपटेक को बढ़ता है।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन कैसे लें?

हमेशा अपने डॉक्टर ने बताई हुई दवा के अनुसार लें। आमतौर पर साइड इफ़ेक्ट को कम करने के लिए मेटफोर्मिन को भोजन के साथ लिया जाता है।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन का पर्याय कौन-सी दवा है?

अनेक दवाइयाँ हैं जो आपके ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में आपकी मदद करती हैं पर अन्य दवाइयों को आजमाने से पहले अपने हेल्थ केयर प्रोवाइडर से सलाह लेने की राय अवश्य दी जाती है। साथ ही किसी आप स्वयं अन्य दवा से खुद का इलाज करने कि कोशिश न करें, क्योंकि आपके लिए ये खतरे से खाली नहीं हो सकता।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन कितना प्रभावी है?

ब्लड शुगर लेवल को कम करने के लिए मेटफोर्मिन बहुत प्रभावी है और अक्सर निश्चित तौर पर बताई जाने वाली दवा है।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन से बेहतर कोई दवा है?

आपके व्यक्तिगत स्वास्थ्य पर निर्भर करता है। आपके हेल्थ केयर प्रोवाइडर मेटफोर्मिन को अकेले या अन्य दवाइयों के साथ या इंसुलिन के साथ लेने के लिए कह सकते हैं।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन को काम करने में कितना समय लगता है?

मेटफोर्मिन कुछ ही दिनों में काम करना शुरू करता है, इसका पूर्ण असर दो हफ्तों तक नजर आने लगता है।

डायबिटीज के लिए मेटफोर्मिन की मात्रा कितनी होनी चाहिए?

हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग खुराक होती है। आमतौर पर मेटफोर्मिन की खुराक 250 मिलीग्राम से शुरू होकर 3000 मिलीग्राम /प्रति दिन तक होती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान मेटफोर्मिन लेना ठीक है?

आमतौर पर मेटफोर्मिन को प्रेग्नेंसी के दौरान महफूज माना जाता है पर सिर्फ आपके हेल्थ केयर प्रोवाइडर ही तय करेंगे किआपको ऐसे लेना चाहिए या नहीं। माँ और बच्चा दोनों के लिए महफूज है या नहीं यह निश्चित करने के लिए हेल्थ केयर प्रोवाइडर द्वारा इसकी बारीकी से निगरानी की जानी चाहिए।

- By Fitterfly Health-Team